Skip to main content

Posts

Showing posts from June, 2020

Bad Breath Treatment ka Ilaj at Home मुँह से निकलने वाली बदबू

अक्सर कई बार यह देखा जाता है, जब हम सुबह सुबह अपने बिस्तार से उठते है , और मुह में अपने हाथो से ढक कर साँस को बहार छोड़ते है तो हमारे मुह से एक अजीब तरह का दुर्गन्ध निकलती है, जो काफी बदबूदार होता है | यह मुह से नकलने वाला दुर्गन्ध काफी ख़राब अनुभव  कराती है | इस प्रकर की बदबू से लोग काफी परेशन रहते है | क्योकी अगर इस प्रकार की समस्या लोगो में रहने पर अन्य लोगो के साथ मिलने जुलने में काफी सर्मिंदगी महसूस होता है | कई बार तो जिसे इस प्रकार की समस्या होती ही उन्हें खुद अपने मुह से निकलने वाली बदबू के कारण घर से बहार निकलना भी छोड़ देता है | देखा जाये तो यह एक आम समस्या  है , जिससे प्राय सभी लोग कभी न कभी इससे जूझते है | परन्तु जो भी ऐसी समस्या से ग्रसित होते है वो लोग अपने जीवन में काफी असहज महसुस करते है | मुह से दुर्गन्ध निकलने के कारण/ Reason Behind Bad Breath मुह से निकलने वली बदबू हमरे मुह में रहने वाले छोटे छोटे microbs के कारण होता है | ये microbes हमारे मुह में रह कर हमारे मसुडो के कोनो में खाने के टुकडो के रह जाने पर उसे खाते है और हमारे मुह में गंदगी फैलाते है | जब हम अपने मुह से…

12 Tips for Glowing Face (चमकता चेहरे का राज )

चमकता चेहरा पाने की चाहत हर किसी में होती है चाहे लड़का हो या लड़की | सभी अपने चेहरे को सवार कर रखते है | अपने चेहरे के प्रति काफी संवेदनशील रहते है | ज्यादातर लडकियों में अपने चेहरे के प्रति ज्यादा चिंताए देखी जाती है | दिन भर अपने साथ चेहरे पर लगाने के लिए कई तरह के face care pack को अपने साथ लिए रहते है | परन्तु उन्हें अजमाना कभी भी आसान नहीं होता | अत कई लोग इस तरह के face pack का इस्तेमाल अपने घरो में ही रह कर करते है | अधिकतर लड़कियां अपने चेहरे की चमक के लिए हप्ते (week) में 3 से 4 बार beauty parlor जाते है |
Chamakta chehra pane ki har kisi ki chahat hoti hai. Sabse adhik iska craze ladkiyo me hota hai par ladke bhi apne chehre ke prati kafi chintit rahte hai. Ladkiya hamesha apne chere ki dekh bhal ke liye beauty parlour jana pasand karte hai. Hamesha apne chehre par lagan eke liye cream ya koi any factory product apne sath rakhte hai . apne ghar me rah kar bhi aap apne chere ka khayal rakh sakte hai.
चमकता चेहरा पाने के लिए आवाश्यक घरेलु उपाए :
अगर आप अपने चेहरे की खुबसूरती को …

Ear Infection Treatment & Symptoms – कान के घाव का इलाज

Kano me kai bar sankraman (infection) hone ke chalet usme kafi dard hone lagta hai . Sath hi usme mawad jama ho jata hai . Paranto Ear Infection ko pachana jaa sakta hai kinto ke lakshan ko gaur karna hoga. Kaan ke sankraman ke karan dard hone se khana khane , baat karne me kafi taklif hone lagta hai.chote bachcho me jyadatar aisi samasya hoti hai parantu kai bar bade log me bhi kan is tarah ka sankraman ho jata hai jiske kai karan hote hai jaise-

कानो में होने वाले इन्फेक्शन(infection) काफी जटिल होती है | क्योकि इसके होने पर एक तो इसमें खुजलाहट बहुत लगती है और खुजलाने की कोशिस करने पर दर्द काफी होता है | इसके होने पर कई बार हमें खाने के साथ-साथ अन्य कामो में भी कई तरह के समस्या होंने लगता है | दिन भर दर्द रहने के कारण कुछ भी काम न कर पाने में असमर्थता | इस प्रकार की ज्यादातर समस्याए 6 महीने से 2 साल के बच्चो में अधिक देखने को मिलता है | परन्तु कई कारणों से इस प्रकार की समस्याए बड़ो में भी देखने को मिलते है | जैसे –
कान के घाव के लक्षण | Ear Infection Symptomsनहाते समय या किसी अन्य वज…

How to Cut Rope easily – रस्सी काटने के आसान तरीके

कई बार ऐसा होता है, की रस्सी को काटने के लिए आपके पास कोई भी चाकू या blade नहीं होता है | आपको कोई उपाई नहीं मिलता रस्सी को काटने के लिए | कई बार इसके लिए रस्सी को दोनों हाथो से खीच कर रस्सी को तोड़ने की कोशिस की जाती है, पर सफलता नहीं मिलती | अत; आज हम आपको आसान तरीके से बिना किसी औजार के उपयोग किये रस्सी काटना सिखायेंगे | रस्सी को काटने के लिए एक आसन तरीका सबसे पहल रस्सी को जहा से टुकड़ा करना है, वाहा पर निसान (mark) लगा ले | अब उस निसान के दोनों ओर के भाग को अपने पैरो के निचे दबा दे, ध्यान रहे ऐसा करते वक़्त आप आपने पैरो में जूता अवश्य पहने हो | इसे खली पैर से करने की प्रक्रिया में आपकी पैर भी कट सकती है , अत; जूता पहन ले | रस्सी को दोनों पैरो के निचे दबाने के बाद रस्सी की अतिरीक्त भाग या कोई दूसरी रस्सी ले कर के mark किये निसान के निचे से डाल कर रस्सी को ऊपर उठा ले | अब उस अतिरीक्त रस्सी को उस निसान किये हुए भाग पर तेजी से आगे पीछे की और रगड़े | इस प्रक्रिया से रस्सी को काटने के लिए अत्यंत तीव्र गति से रस्सी को रगड़ना पड़ता है | तेजी से रगने पर रस्सी जहा पर निसान किया हुआ है वाहा से दो …

Tonsils Treatment & Symptoms – टोन्सिल के लक्षण और इलाज

टोन्सिल (tonsils) हमारे शरीर में पहले से ही मौजूद होता है, यह हमारे जीभ के पीछे की भाग से सटा हुआ होता है | यह हमारे गले में जहा पर नाक का छिद्र तथा मुख का छिद्र मिलता है, ठीक वही पर जीभ के पिछले भाग से जुडा हुआ स्थित पाया जाता है | सामान्य अवस्था में टोन्सिल से किसी भी तरह का परेशानी नहीं होती है | परन्तु अगर किसी कारण वास इसमें संक्रमण हो जाये या इसमें सुजन आ जाये तो इससे काफी दर्द होता है | दर्द के कारण कभी कभी खाना खाने में एवं मुह को खुलने में काफी तकलीफ होने लगता है |
Tonsils in Hindi Waise to tonsil hamare sarir me janam se hi rahta hai, parantu jayda hone se Tonsils ke lakshan ko pakar kar ilaj kiya jaa sakta hai. Iski maujoodgi se hame samany taur par koi pareshani nahi hoti hai. Parantu jab kishi karan was agar jaise thande mausam ya thandi chij ke sampark me aane se tatha virus ya becteria se sankramit hone par tonsil me sujan aane lagta hai. Jiske karan gakle me tonsil wale bhag par tej dard hone lagta hai. Dard ke karan muh ko kholne me kafi taklif hoti hai sath hi khana…

Typhoid Fever Treatment & Symptoms – टाइफाइड बुखार का इलाज

टाइफाइड या मियादि बुखार एक प्रकार के लीवर में होने वाले बैक्टीरियल हमले के कारण होता है | जिसके होने पर शरीर में कई भागो पर दर्द का अनुभव होने लगता है | तथा शरिर कमजोर हो जाती है | तेज दर्द होने के कारण सिर में काफी तनाव रहता है | समय पर इसके उपचार सम्बन्धी ध्यान रखने से इससे होने वाले दूस परिणामो से बचा जा सकता है | लापरवाही होने पर लोगो की जाने भी जा सकती है | इस बीमारी से होने वाली मृत्यु के आंकड़ो को देखा जाए तो आपको अंदाजा हो जाएगा यह बीमारी कितना खतरनाक है | किसी भी तरह का लापरवाही संक्रमित व्यक्ति के लिए मृत्यु का कारण हो सकता है |
(Typhoid ) ya miyadi bukhar ek prakar ki liver me hone wale bacterial hamle ke karan hota hai . Jiske  hone par sharer ke kai bhago me dard ka anubhaw hone lagta hai . Tatha sharer kamjor ho jati hai . tej dard hone ke karan sir me kafi tanao rahta hai  samay par iske upchar sambandhi dhyan  rakhne se ishase hone wali doos  parinamo se bacha ja sakta hai . is bimari se hone wali mriityu ke ankdo ko dekha jaye to aapko andaja ho jayega yah bimari kit…

Symptomps and 6 Home Remedies for Cholesterol (ilaj)

कोलेस्ट्रोल हमारे रक्त में पाए जाने वाले वसा है जिसका एक निश्चित मात्रा में हमारे शरीर में होना आवशयक है परन्तु कई बार विभिन्न कारणों से यह देखा जाता है की हमारे शरीरमें जर्रूरत से इज्यादा कोलेस्ट्रोल बनने लगता है जिसके कारण हमारे शरीर में कई तरह के बिमारिया होने लगती है | वैसे तो कोलेस्ट्रोल हम सभी के शरीर में पाया जाता है | परन्तु किसी किसी के शरीर में काफी अधिक मात्रा में होता है | जिसके कारण उन्हें उच्च रक्त चाप एवं दिल से सम्बंधित बीमारियाँ गंभीर रूप से जकड लेती है | हमारे शरीर में तीन तरह के कोलेस्ट्रोल पाए जाते है , जो अलग अलग गुणों वाले होते है |   इनमे से सभी का कुछ न कुछ मात्रा में होना आवश्यक है |
Cholesterol hamare rakt me paye jane wale washa hai .  jiska ek nishchit matraa me hamare sharir me hona awashyak hai.  parantu kai bar vibhinn karano se yah dekha jata hai ki hamare sharir me jarurat se jyada cholesterol  banne lagta hai.  jiske karan hamare sharir me kai tarah ke bimariya hone lagti hai waise to cholesterol ham sabhi ke sharir me paya jata hai. parantu kisi kisi…

Meaning of Plaque in Hindi

What is the meaning of Plaque in Hindi? जानिए PLAQUE की हिंदी में क्या मतलब होता है | इससे होने वाली बीमारी जो की दातों में अक्सर होती है |
Plaque = दांत में जमी गंदगी / दांत में जमी पिली पट्टी
रोजाना दांत कि सफाई न करने से या ब्रश किये बिना खाना खाने से दांतों में धीरे धीरे एक परत बनती रहती है , जो धीरे धीरे एक पतली पिली परत  (plaque) के रूप में जमने लगती है, दांतों में | Roajana danto ki safai karna kafi jaruri hota hai kyu ki rojana dantoki safai na kiya jaye to danto  me Plaque jam sakti hai jisse aap ke dant pile najar aate hai pile dag agar lambe samay tak rah jati ha to wah gehre kale dag me badal jate hai  jise angegi me (plaque).

Meaning of Cinnamon in Hindi

What is the Meaning of Cinnamon in Hindi language? आप भी जाने CINNAMON का हिंदी मतलब और इसका उपयोग और फायेदे | Cinnamon का synonyms and definitions अब Hindi में |Cinnamon = दालचीनी दालचीनी एक प्रकार का सिन्नेमोमम ज़ाइलैनिकम ब्राइन (Cinnamomum zeylanicum Breyn) सदाबहार पेड़ का छाल है l इस पेड़ की उचाई १० से २० मीटर होता है l यह पेड़ लौरेसिइ (Lauraceae) प्रजाती का होता है जो प्रायः दक्षिण भारत और श्री लंका में बहुतायत में मिलता है l इस पेड़ के छाल को गरम मसाला के रूप में व्यंजनों में खुशबु और स्वाद के लिए करते है l भारत में दालचीनी विभिन्न प्रकार के व्यंजनों जैसे Chikan, Paneer एवं अन्य सब्जियों में होता है l दालचीनी का उपयोग  दालचीनी का रोजाना प्रयोग से शरीर में रक्त शर्करा में कमी लती है जो मधुमेह जैसे रोग को संतुलित रखता हैदालचीनी का प्रयोग से मुंह से आने वाले दुर्गन्ध को मिटाता है१.५ ग्राम दालचीनी के चूर्ण को एक चमच शहद के साथ रोजाना इस्तेमाल से अल्सर जैसे बीमारी को ठीक किया जा सकता है

Meaning of Cumin Seed in Hindi

What is the meaning of Cumin Seed in Hindi language? What’s the uses of Cumin Seed – आप भी जानिए Cumin Seed को हिंदी में क्या बोलते है और इसके फायदे | Cumin Seed  ko Hindi mein kya bolte hai – aaiye jaane. Cumin Seed = जीरा
जीरा एपियेशी (Yepiyeshi) समूह का एक पुष्पिये पौधा है जो देखने में सौंफ जैसा होता है l इस पौधे के फल में स्थित बिज को निकाल कर सुखा दिया जाता है और इसे व्यंजनों में शाबूत या पिस कर मसाले के रूप में इस्तेमाल किया जाता है l जीरा का उपयोग  / Cumin Seed Uses जीरा का नियमित उपयोग से शरीर में खून की कमी को दूर करता है lजीरा हमारे शरीर में भोजन को पचाने में बड़ी भूमिका निभाता है lजीरा को उबाल कर उसके पानी से स्नान करने से खुजली ख़त्म हो जाती है l४ से ६ ग्राम जीरा के चूर्ण को दही के साथ मिलाकर खाने से डायरिया नमक रोग से दूर रहा जा सकता है lजीरा के सेवन से मुंह से आने वाले दुर्गन्ध को ख़तम किया जा सकता है l

Meaning of Domicile in Hindi Language

Finding meaning of Domicile in Hindi language is now easy. If you came across the Domicile word and wanted to know its plain meaning in English or Hindi then you should scrawl it below to know meaning with example.
Meaning of Domicile in Hindiअधिवासअधिवासीनिवास स्थानस्थायी निवास स्थानवास्तविक वास क्षेत्र
The Domicile is nothing but the origin of a specific place where you have permanent home.
Domicile – शब्द का प्रयोग किसी व्यक्ति या समुदाय के रहने के स्थान को संबोधित करने के लिए किया जाता है | यह एक ऐसा अधिवास क्षेत्र होता है , जहा पर कोई व्यक्ति का जन्म हुआ हो या उसका स्थायी घर हो जहा वह  पीढ़ी दर पीढ़ी कई वर्षो से रह रहा हो | कभी – कभी इस शब्द का प्रयोग किसी समुदाय के प्रमुख निवास क्षेत्र के लिए भी किया जाता है |  जहा से वे अन्य क्षेत्र की और प्रवास (migration) करते है | किसी विशेष क्षेत्र में रह्ने वाले लोग के निवास स्थान के लिए इस (domicile) शब्द का प्रयोग किया जाता है |
Donoicile shabd ka prayog kisi wyakti ke rahne ki nishchit sthan ke liye upyog. Waise to log apne janam ke sath…

Meaning of Cloves in Hindi Language

The meaning of Cloves is very easy if you wanted to know in Hindi language. Find what Cloves is known in Hindi language. To aaiye jante hai Cloves ko Hindi mein kya bolte hain. Cloves Meaning in HindiCloves = लौंग लौंग = cloves यह एक प्रकार का फल है जो पौधों में उगता है | जिसका उपयोग मसाले के रूप में होता है भारतीय continent में लौंग का सर्वधिक उपयोग मसाले में होता है | वास्तव में यह फूल की कलि और उसके डंठल वाला भग होता है  |  जब लौंग के पौधों में छोटे छोटे नए फूल अंकुरित होते है , तो उनका रंग हलकी लाल एवं गुलाबी रंग की हो जाती है | ठीक उसी समय लौंग की कलि को उसके डंठल भाग के समेत ही हाथो से तोड़ लिया जाता है | तोड़ने के बाद उसे कड़े धुप में सुखाने से लौंग का रंग बदलकर गहरी काली हो जाती है | जब पौधों में फूल अंकुरित होता है , उसको कलियों की पूर्ण रूप से अंकुरित होने से पहले ही उसकी डंठल समेत तोड़ लिया जाता है | और उसे सुखा दिया जाता है |
लौंग का उपयोग / Uses of Cloves / Laung ke fayde Waise to Laung har ghar mein use hota hai par iska kaif sare fayde bhi hai, jaise ki – लौंग का उपयोग सर्वध…

How to Test Purity of Honey – मधु / शहद की गुणवत्ता जाचे

मधु जिसको शहद या Honey भी बोलते है सारे संसार में उपयोग होता है | आइये जाने शहद की शुद्धता का परीक्षण घर पर कैसे करे |  मधुरस की उपयोग हम कई रूप में करते है | यह बहु गुणों वाला होता है | जिसका उपयोग सदियों से औषधि के निर्माण में किया जाता रहा है , साथ ही इसका उपयोग विभिन्न रोगों के उपचार में शीधे तौर पर भी किया जाता रहा है | इसका उपयोग हम खाने की चीजो जैसे bread , आदि में भी करते है | वैसे तो honey मुख्य रूप से मधुमखियो के छाते से निकाला जाता है | जो पूर्ण रूप से शुद्ध रहता है | परन्तु बाजार में पहुचने के बाद इनकी शुद्धता में कमी होने लगता है | बड़े बड़े व्यापारी शुद्ध मधु के रस में अन्य तरल पदार्थो को मिलाकर मिलावट वाला मधुरस को बाजार में बेचने के लिए भेज देते है | जिसको बेच कर व्यापारी अधिक मुनाफा प्राप्त करते है | जब कोई व्यक्ति बाजार से मधु रस खरीदने जाता है, तो वह मिलावट वाली मधुरस को ही शुद्ध मधुरस के तैय मूल्य के अधार पर खरीदता है | जिसकी गुणवता कम होती है, या नहीं होती | लोगो को इसके शुद्धता के खरे होने के बारे में पता भी नहीं चलती | क्योकि यह वास्तविक मधु जैसा ही दीखता है, जिन…

Home Remedies for White Hair – सफ़ेद बाल को काला कैसे करे

सफ़ेद बालो की समस्या काफी जटिल होती है |  वैसे तो सफेद बाल होने की संभावना एक निश्चित समय के बाद अधिक उम्र के लोगो मे देखी जाती है, परन्तु कई शारीरिक बीमारियों या पोषण की कमी होने पर इस तरह कि समस्याए कम उम्र के लोगो मे भी होने लगता है | कई बार आपको इसके बारे में कुछ पता नही चलता और धीरे धीरे आपके बालो का रंग सफ़ेद होते चले जाते है | सफ़ेद बालो के कारण लोगो काफी परेशान रहते है, क्योकि ज्यादातर सफ़ेद बाल होना बुढ़ापा आने की निशानी माना जाता है | अत: इस प्रकार की परेशानिया ज्यादातर युवाओ में देखा जाता है | Safed baal ki samasya hamare sir me baal ki jado me poshak tatwo ki kami hone ke karan hota hai . kai bar is tarah ki samashya hamare khane pine se aur manshik ya mastisk me bura prabhaw padne ke karan bhi hota hai . badhapa me baal ka shafed hona aam baat hai lekin yuwa me aj kal kam umr me hi baalo ke pakne jaisi samasyae kai prakar ki bimario ewam apne baalo ke rakh rakhao me kami hone ke karan ho raha hai .  Jisse yuwa khas roop se pareshan rahte hai. To aiye jane Safed Baal ko Kala k…

Benefits of Green Tea in Hindi – ग्रीन टी के फायदे

Benefits of Green Tea in Hindi – ग्रीन टी के फायदे By | June 23, 2015 0 Comment चाहे भारत हो या विश्व का कोई भी कोना हर देश के के लोग अपनी दिन की शुरुआत चाय की चुस्कियो के साथ करना पसंद करते है | कई लोग का यह एक आदत भी बन जाता है वे चाहे सुबह के समय अख़बार पढ़ रहे हो या फिर शाम को office से घर लौटे हो | हम अक्सर अपने काम करते रहने के दौरान या फिर अपने काम से ब्रेक ले कर चाय पीना पसंद करते है | इसकी रोजाना खपत इतना अधिक होने के कारण इसकी मांग भी काफी अधिक होती है |
Aaj kal Green Tea pine ka kafi chalan hai aur ho bhi q na, Green tea ke fayde bhi hai. Chahe India ho ya viswa ka koi bhi Country, sabhi log chai / tea pina kafi pasand kiya jata hai kai log ka yah addat ban jata hai ki rjana subah uthne ke baad chai pite hai aur akhbar padhate hai. Chai ke kai prakar hote hai jo unke rang tatha swad me paye jane wali wibhintaa ke karan hota hai. Chai me hari patti  ki chai me kafi  labh kari gun  milta hai , is chai ki swad bhi kafi achh hoti hai.  Isme maujud caffeine mastisk brain ko b…

Dry Cracked Lips Treatment in Hindi – फटे होंठ से राहत पाने के उपाए

किसी को भी dry cracked lips पसंद नहीं है परन्तु इसका treatment और इलाज (ilaj) काफी आसन है | अक्सर यह देखा जाता है की मौसम में परिवर्तन होने पर हमारे होंठ में दरार बनने लगता है | जिसके कारण होंठो में काफी दर्द होता है साथ ही उसमे से खून भी निकालने लगते है | इस प्राकर की समस्याए सबसे अधिक ठंड की मौसम में देखा जाता है | ठंडी मौसम में हमारे वायुमंडल में नमी कम मात्रा में रहती है | जिसके कारण हमारे होंठो की नमी भी बार बार कम होने लगती है, इसी वजह से हमारे होठो में दरारे पड़ने लगते है, और होंठ फट जाते है |


Aksar yah dekha jata hai ki mausam me pariwartan hone par hamare hontho me darare padne lagti hai | jiske karan hontho me kafi dard hota hai, sath hi usme se khoon bhi nikalne lagte hai. Is prakar ki samasyae sabse adhik thand ki mausam me dekha jata hai. Thandi mausam me hamare wayumandal me name kam matraa me rahti hai. Jiske karan hamare hontho ki name bhi bar bar kam hone lagti hai. Isi wajah se hamare hontho me darare padne lagte hai aur honth fat jate hai.
होंठ के फटने के कारण ( hon…

Simple Home Remedies for Swine Flu in India – स्वाइन फ्लू का इलाज

स्वाइन फ्लू (swine flu) एक तरह का बुखार है जो H1N1 VIRUS के शरीर में प्रवेश कर जाने से होता है परन्तु इसका home treatment घर पर ही किया जा सकता है| यह वायरस हमारे शरीर के immune system पर हमला करता है और हमारे शरीर को होस्ट (host) के रूप में इस्तेमाल कर खुद की संख्या में बृद्धि करता है | यह हमारे खून में पहुँच कर कोशिकाओ को खाने लगता है | जिससे शरीर कमजोर पड़कर बीमार होने लगता है | जब हमारा शरीर का रक्षा तंत्र इस virus से हमारे शरीर को बचाने के लिए लड़ता है, तो हमारे शरीर में तेज बुखार आने लगता है | यह virus मुख्य रूप से सूवार (pig) से मच्छरों के द्वारा मनुष्य में पहुचता है | यह एक फैलने वाला बीमारी है, जो एक मनुष्य से दुसरे मनुष्य में फ़ैल सकता है | यह बीमारी सबसे अधिक 5 साल से कम और 60 साल से अधिक उम्र के लोगो को ज्याद होता है, क्योकि उनमे immune system काफी कमजोर रहता है | इसके अलावा अस्थमा, मधुमेह, तथा दिल की बीमारी वाले व्यक्ति में भी तुरंत फ़ैल सकता है |


Swine flu ek tarah ka bukhar hota hai jo h1n1 virus ke sharir me prawesh kar jane se hota hai . yah virus hamare sharir ke immune…